Featured Post

खूब लड़ी मर्दानी ....झाँसी की रानी कविता -

झाँसी  की रानी -कविता पाठ =================== -[सुभद्रा कुमारी चौहान जी की लिखी ] Kavita Paath: Alpana Verma सिंहासन हिल उठे...

Feb 23, 2017

ये मौसम रंगीन समा -फिल्म: मॉडर्न गर्ल [१९६०]

फिल्म : मॉडर्न गर्ल [१९६०]
संगीतकार- रवि
गीतकार -गुलशन बावरा
मूल गायक -मुकेश और सुमन कल्यानपुर
================================

================================
This Cover song is sung by Safeer and Alpana
================================
Mp3 download or Play here
----------------------------------------------------------

Lyrics-Ye mausam rangeen sama
-----------------------------------------------

ये मौसम रंगीन समा,
ठहर ज़रा ओ जान-ए-जाँ
तेरा मेरा, मेरा तेरा प्यार है,
तो फिर कैसा शरमाना

रुक तो मैं जाऊँ जान-ए-जां,
मुझको है इन्कार कहाँ  तेरा मेरा,
मेरा तेरा प्यार सनम,ना बन जाये अफ़साना

१.ये चाँद ये सितारें,कहते हैं मिल के सारे,
आजा प्यार करे
ये चंदा बैरी देखे,ऐसे में बोलो कैसे इक़रार करे
दिल में है कुछ,कुछ कहे जुबां
प्यार यही है जान-ए-जां
तेरा मेरा, मेरा तेरा प्यार है,तो फिर कैसा शरमाना


2.ये प्यार की लंबी राहें,कहती हैं ये निगाहें कहीं दूर चले
बैठे हैं घेरा डाले,ये ज़ालिम दुनिया वाले,
हमें देख जले
जलता है तो जले जहाँ
ठहर ज़रा ओ जान-ए-जाँ
तेरा मेरा, मेरा तेरा प्यार है,तो फिर कैसा शरमाना

रुक तो मैं जाऊँ जान-ए-जां,
मुझको है इन्कार कहाँ  तेरा मेरा,
मेरा तेरा प्यार सनम,ना बन जाये अफ़साना
===============================
===============================

No comments: