Featured Post

खूब लड़ी मर्दानी ....झाँसी की रानी कविता -

झाँसी  की रानी -कविता पाठ =================== -[सुभद्रा कुमारी चौहान जी की लिखी ] Kavita Paath: Alpana Verma सिंहासन हिल उठे...

Feb 14, 2017

फिर मिलोगे कभी - -फिल्म : ये रात फिर न आएगी (1966)


-
फिल्म :  ये रात फिर न आएगी (1966)
संगीतकार : ओ.पी.नैय्यर
गीतकार : एस.एच.बिहारी
मूल गायक : मो.रफ़ी और आशा भोसले 
=======================


=======================
Present Version sung by Safeer & Alpana
=======================
-------------------------------------------

गीत के बोल -

फिर मिलोगे कभी इस बात का वादा करलो
हमसे एक और मुलाकात का वादा करलो

१-दिल हर बात अधूरी है अधूरी है अभी
अपनी एक और मुलाकात ज़रूरी है अभी) 
चंद लम्हों के लिये साथ का वादा करलो
हमसे एक और मुलाकात का वादा करलो
फिर मिलोगे कभी इस बात का वादा करलो

2-आप क्यूँ दिलका हंसीं राज़ मुझे देते हैं
क्यूँ नया नग़मा नया साज़ मुझे देते हैं
मैं तो हूँ डूबी हुई प्यार की तूफ़ानों में
आप साहिल से ही आवाज़ मुझे देते हैं
कल भी होंगे यहीं जज़बात ये वादा करलो
हमसे एक और मुलाकात का वादा करलो

फिर मिलोगे कभी इस बात का वादा करलो
हमसे एक और मुलाकात का वादा करलो
==================

==================

No comments: