Featured Post

एक लड़की भीगी भागी सी ...स्वर -अल्पना

गीतकार-मजरूह सुल्तानपुरी

Jan 13, 2017

रिमझिम के तराने लेके आई बरसात...

फिल्म : काला बाज़ार (१९६०)
संगीतकार-सचिन देव बर्मन
गीतकार : शैलेन्द्र
मूल गायक : मो.रफ़ी और  गीता दत्त
--------------------
Download / Play mp3

---------------------

-------------------
कवर गायक -सफ़ीर  और अल्पना
--------------
गीत के बोल :-
---------------
रिमझिम के तराने लेके आई बरसात
याद आए किसी से वो पहली मुलाक़ात
रिमझिम के तराने लेके आई बरसात

१.भीगे तन-मन, पड़े रस की फुहार
प्यार का संदेसा लाई बरखा बहार
मैं ना बोलूँ, आँखें करें अँखियों से बात
रिमझिम के तराने लेके …

2.सुनके मतवाले काले बादलों का शोर
रूम-झूम घूम-घूम नाचे मन का मोर
सपनों का साथी चल रहा है मेरे साथ
रिमझिम के तराने लेके …

3.जब मिलते हो तुम क्यूँ छिड़ते हैं दिल के तार
मिलने को तुमसे मैं क्यूँ था बेक़रार
रह जाती है क्यूँ होंठों तक आके दिल की बात
रिमझिम के तराने लेके .................
========================

1 comment:

Safeer Ahmad said...

so melodious duet song of Black & white Era.. very expressively sung by you ..