Featured Post

खूब लड़ी मर्दानी ....झाँसी की रानी कविता -

झाँसी  की रानी -कविता पाठ =================== -[सुभद्रा कुमारी चौहान जी की लिखी ] Kavita Paath: Alpana Verma सिंहासन हिल उठे...

Mar 8, 2017

छोड़ कर तेरे प्यार का दामन -फिल्म: वो कौन थी [१९६४]

फिल्म: वो कौन थी [१९६४]
गीतकार :राजा मेहदी अली खान
संगीतकार :मदन मोहन
मूल गायक -लता मंगेशकर और मो. रफ़ी
============================================

============================================
This cover song is sung by Safeer and Alpana
---------------------------------------------------
Mp3 Download Or Play here
---------------------------------------------------

Lyrics-
------------
छोड़कर तेरे प्यार का दामन ये बता दे के हम किधर जाएँ
हम को डर है के तेरी बाहों में , हम खुशी से ना आज मर जाएँ

१.मिल गए आज काफिले दिल के, हम खड़े हैं  करीब मंजिल के
मुस्कराकर  जो तुम ने देख लिया, मिट गए हँस के सब गिले दिल के
कितनी प्यारी है ये हसीं घड़ियाँ , इन से कह दो यहीं ठहर  जाएँ

2.तेरे कदमो पे जिन्दगी रख दूँ  अपनी आंखों की रोशनी रख दूँ
तू अगर खुश हो मै तेरे दिल में अपने दिल की हर इक खुशी रख दूँ
मेरे हमदम मेरी खुशी ये है, तू नजर आये, हम जिधर जाएँ
3.देखकर प्यार इन निगाहों में
दीप से जल गए हैं राहों में
तुमसे मिलते न हम तो ये दुनिया दूब जाती हमारी आहों में
अपनी आहों से आज ये कह दो
अब न होठों पे उम्र भर आएँ


छोड़कर तेरे प्यार का दामन ये बता दे के हम किधर जाएँ
हम को डर है के तेरी बाहों में , हम खुशी से ना आज मर जाएँ
--------------------------------------
--------------------------------------

No comments: