Featured Post

एक लड़की भीगी भागी सी ...स्वर -अल्पना

गीतकार-मजरूह सुल्तानपुरी

Dec 30, 2010

11-दो पल रुका यादों का कारवाँ


दो पल रुका यादों का कारवाँ

फिल्म--:वीर-ज़ारा
संगीत-मदन मोहन
गीत-जावेद अख़्तर

'दो पल रुका
ख़्वाबों का कारवाँ और फिर चल दिये तुम कहाँ हम कहाँ
दो पल
की थी ये दिलों की दास्ताँ और फिर चल दिये तुम कहाँ हम कहाँ
''

यह दो गाना अपने पी सी पर सितंबर २००८ में रेकॉर्ड किया था जब मैं ट्रेक मिक्सिंग सीख ही रही थी.
कारोआक्े में शुरू में आलाप लता जी की आवाज़ में मूल ट्रेक से ही हैं]
[प्रस्तुत आवाज़ें-राजा पाहवा और मेरी हैं]
Download here or play


3 comments:

kshama said...

Wah! Kya geet hai...maine pahli baar suna! Aur aap dono kee aawaazen bhee gazab kee!

Patali-The-Village said...

नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं|

shekhar suman said...

आपके गाये गीत, क्या कहूं...
आश्चर्य ये ब्लॉग मुझसे दूर कैसे था.....
लेकिन ये क्या, फोलो कैसे करूँ... लगता है ब्लॉग रोल में जोड़ना पड़ेगा.....