Featured Post

28-चिठ्ठी ना कोई संदेस़

गीतकार :आनंद बक्षी संगीतकार :उत्तम सिंह चित्रपट :दुश्मन - 1998 Original Singer-Lata Presenting cover version -vocals-Alpana प्रस्त...

Nov 3, 2010

22-रजनीगंधा फूल तुम्हारे


रजनीगंधा फूल तुम्हारे
film-Rajanigandha[१९७४]
Music: Salil Choudhary
Lyrics:Yogesh
Original Singer :Lata
Starring:Vidya Sinha

रजनीगंधा फूल तुम्हारे महके यूँ ही जीवन में
यूँ ही महके प्रीत पिया की मेरे अनुरागी मन में
रजनीगंधा...

1-हर पल मेरी इन आँखों में बस रहते हैं सपने उनके
मन कहता है मैं रंगों की एक प्यार भरी बदली बनकर
बरसूँ उनके जीवन में
रजनीगंधा...

2-अधिकार ये जबसे साजन का हर धड़कन पर माना मैंने
मैं जबसे उनके साथ बंधी ये भेद तभी जाना मैंने
कितना सुख है बंधन में

रजनीगंधा फूल तुम्हारे महके यूँ ही जीवन में
जैसे महके प्रीत पिया की मेरे अनुरागी मन में
रजनीगंधा...
Song suggested by Dr.Anurag
Download Or Play
[स्वर----अल्पना]

18 comments:

यशवन्त said...

बेहतरीन प्रस्तुती

Anonymous said...

Wonderfully selected songs very well presented! Enjoyed listening!!
Regards,
Adwait

दिलीप कवठेकर said...

मैंयह सोच ही रहा था कि आपने अभी तक यह गीत क्यों नही गाया...

इस गाने में अंतर्निहित मासूमियत और अनुराग आपने स्वरों के माध्यम से बेहद अच्छे तरीके से गाया है.

Dr.R.Ramkumar said...

यह गीत मुझे युवावस्था की मीठी और गाढ़ी सुगंध की तरह आज भी मदमस्त करता है. धन्यवाद!!

daanish said...

गीत , तो खूबसूरत है ही ...
गाया भी उसी ख़ूबसूरती से गया है ...
सीधे - साधे , आसानी से दिल में उतर जाने
कोमल शब्द ही इस गीत की सुन्दरता हैं
अभिवादन .
कभी वो गीत भी सुनवाईये...
(फैली हुई हैं सपनो की राहें
आजा चल दें कही दूर...लताजी )

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

बहुत प्‍यारा गीत है। वैसे आपके स्‍वरों ने इसे और भी मधुर बना दिया है।

---------
प्रेत साधने वाले।
रेसट्रेक मेमोरी रखना चाहेंगे क्‍या?

सतीश सक्सेना said...

बहुत अच्छा गाना ...आनंद आ गया ! शुभकामनायें आपको !

JHAROKHA said...

alpna di
bahut hi sundar geet .kabhi kabhi ham bhi ise yun hi gungunaya karte the,par aapki tarah main gayika nahi hun shayad ho bhi nahi sakti.
aapko bahut bahut badhai.
-अधिकार ये जबसे साजन का हर धड़कन पर माना मैंने
मैं जबसे उनके साथ बंधी ये भेद तभी जाना मैंने
कितना सुख है बंधन में

रजनीगंधा फूल तुम्हारे महके यूँ ही जीवन में
जैसे महके प्रीत पिया की मेरे अनुरागी मन में
रजनीगंधा..
bahut hi manko lubhne wala geet
poonam

muskan said...

बहुत ही सुंदर...

kumar zahid said...

नववर्ष की रजनी गंधा की खुशबू से भरी अनेक शुभकामनाएं

अमित जैन (जोक्पीडिया ) said...

वाह वाह और सिर्फ वाह ही वाह
आप की आवाज मे रजनीगन्धा

Arvind Mishra said...

Gr8

Mukesh Kumar Sinha said...

ek pyare se geet ke liye ek smile [:)] mere aur se bhi...

Kailash C Sharma said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति..

डॉ .अनुराग said...

रजनीगंधा मन्नू भंडारी की कहानी पर आधारित वो फिल्म थी ...जिसमे सब कुछ परफेक्ट था ..स्टोरी ..म्यूजिक... गीत..इन गानों को सुनकर लगता है ये फिल्म की आत्मा है ... योगेश ने कमाल लिखा है ....and my fav too...

Udan Tashtari said...

बहुत दिन बाद आया...अच्छा लगा.

शाहिद मिर्ज़ा ''शाहिद'' said...

अल्पना जी, बहुत खूबसूरती से पेश किया है आपने इस पसंदीदा गीत को.

विशाल said...

well sung