Featured Post

एक लड़की भीगी भागी सी ...स्वर -अल्पना

गीतकार-मजरूह सुल्तानपुरी

Jan 10, 2010

34-मेरा दिल ये पुकारे











फिल्म - नागिन
गीतकार - राजेंद्र किशन
संगीतकार - हेमंत कुमार

मेरा दिल ये पुकारे आजा
मेरे गम के सहारे आजा
भीगा भीगा है समां ऐसे में है तू कहाँ
मेरा दिल ये पुकारे आजा .......

तू नहीं तो ये रुत ये हवा क्या करूँ, क्या करूँ करू
दूर तुमसे रहके के बता क्या करू ,क्या करू
सुना सुना है जहाँ अब जाऊं मैं कहाँ
बस इतना मुझे समझा जा,
भीगा भीगा है समां...

आंधिया वो चली आशियाँ लुट गया,
प्यार का मुस्कुराता जहाँ लुट गया
एक छोटी सी झलक मेरे मिटने तलक..
ओ चाँद........... मेरे दिखला जा
भीगा भीगा है समां ऐसे में है तू कहाँ
मेरा दिल ये पुकारे आजा .......
---------------------------
Original Singer for the film- लता मंगेशकर
Cover Version sung by Alpana




Download or Play Mp3

5 comments:

Udan Tashtari said...

मेरा प्रिय गीत...सुन्दर गायन!!

ताऊ रामपुरिया said...

बहुत ही कालजयी गीत है. जब सुनो तब ताजा लगता है, इतने वर्शों होगये सुनते सुनते, पर इसका आकर्षण दिनों दिन बढता ही जाता है. बहुत कर्णप्रिय.

रामराम.

नीरज गोस्वामी said...

वाह वाह वाह...गीत सुन कर गद गद हो गए...
नीरज

दिलीप कवठेकर said...

एक तो ये गीत ही बडा सुमधुर है, कर्णप्रिय है, आपने भी उतना ही कर्ण प्रिय गाया है.

इसमें एक सुर की गुंजाईश थी.

ज्योति सिंह said...

line se raat ki khamoshi me sabhi gaane sunti rahi, kitna madhur sangeet ka mahaul raha ,shukriyaan