Featured Post

खूब लड़ी मर्दानी ....झाँसी की रानी कविता -

झाँसी  की रानी -कविता पाठ =================== -[सुभद्रा कुमारी चौहान जी की लिखी ] Kavita Paath: Alpana Verma सिंहासन हिल उठे...

Jun 20, 2013

जाने कहाँ गए वो दिन ..

जाने कहाँ गए वो दिन ...

जाने कहाँ गए वो दिन,
 कहते थे तेरी राह मेंनज़रों को हम बिछाएंगे
चाहे कहीं भी तुम रहो,
 चाहेंगे तुमको उम्र भरतुमको ना भूल पाएंगे
जाने कहाँ गए वो दिन ...
 मेरे कदम जहाँ पड़े,
 सजदे किये थे यार ने
मुझको रुला रुला दिया,
 जाती हुई बहार ने जाने कहाँ गए वो दिन ...
 अपनी नज़र में आज कल,
 दिन भी अंधेरी रात है साया ही अपने साथ था,
 साया ही अपने साथ है...जाने कहाँ गए वो दिन ...

 हसरत जयपुरी का लिखा
 शंकर जयकिशन का संगीतबद्ध किया
फिल्म मेरा नाम जोकर से मुकेश जी का अमर गीत ...
वायलिन की धुन के साथ मेरी एक कोशिश
 
download mp3 here
Vocals--Alpana ...Violin Tune by Mr Javed

No comments: